LAC गतिरोध के बीच भारत ने हथियार खरीदने में दिखाई तेजी तो चीन को लगी मिर्ची

पूर्वी लद्दाख में भारत से हर मोर्चे पर मात खाने वाले चीन को एक बार फिर से मिर्ची लगी है। चीनी सरकार के भोंपू माने जाने वाले ग्लोबल टाइम्स में लियू झिन ने भारतीय इकॉनमी, बजट, सैन्य आदि मसलों पर एक आर्टिकल लिखा है।

इसमें उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी की चपेट में आई भारतीय इकॉनमी में साल 2020-21 में 7.7 फीसदी का अनुमान है। इससे सैन्य बजट में मामूली बढ़ोतरी की गई है। दूसरे देशों से हथियार खरीदकर भारतीय सेना को चीन के साथ सीमा विवाद निपटाने में ज्यादा लाभ नहीं मिलने वाला है।

यह मानना भारत का भ्रम है कि वह अन्य देशों से हथियार खरीदकर अपनी सैन्य क्षमता में सुधार कर लेगा।”
ग्लोबल टाइम्स ने एक्सपर्ट के हवाले से कहा, ”भारत ने हाल ही में अमेरिका, रूस, इजरायल और फ्रांस से हथियार खरीदे हैं, जिससे उसकी युद्धक क्षमता में सीमित वृद्धि ही होगी।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *