10 हजार भारतीयों की जासूसी करा रही है चीनी सरकार, पीएम से लेकर इन सभी का नाम है शामिल

भारत-चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में बढ़े तनाव को लेकर हालात गंभीर बने हुए हैं। दोनों देशों के बीच युद्द जैसे हालात पैदा हो रहे हैं, इसी दौरान चीन ने अपनी खुफियां एजेंसियों से भारत के लोगों की जासूसी करने का जिम्मा दिया है। चीन की कुछ कंपनियां भारत में पीएम से लेकर कई बड़े सेना अफसरों सहित राजनेताओं की जासूसी कर रही हैं. 

इस बारे में इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन की कंपनी शेनज़ेन भारत के 10 हजार लोगों पर नज़र रख रही है। इन लोगों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लेकर मेयर तक लोग शामिल हैं। इस कंपनी का सीधा संबंध चीनी सरकार और कम्युनिस्ट पार्टी से है।

अपनी रिपोर्ट में इंडियन एक्सप्रेस ने ये दावा किया है कि इन लोगों पर निगरानी रखने के लिए शेनजान इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी फर्म ने  चीनी सरकार का साथ लेते हुए ओवरसीज़ का इन्फॉर्मेशन डाटा बेस तैयार किया है। इस डेटा को कलेक्ट करने की प्रकिया को चीनी कंपनियां हाइब्रेड वॉर का नाम देती हैं। अब ना जाने चीन के इरादे क्या है लेकिन इस तरह से सभी लोगों पर नजर रखना और उनके बारे में ज्यादा से ज्यादा इंफॉर्मेशन कलेक्ट करना, यह देखकर चीन के इरादे कुछ खास अच्छे नहीं दिख रहे।

Share this:

Leave a Comment