हिंदुस्तान में कोरोना टेस्ट से लोग क्यों बच रहे, जानिए इसके पीछे का बड़ा कारण

भारत को लेकर एक डराने वाला सच सामने आया है। समाचार यह है कि देश में लोग कोरोना टेस्ट कराने से हिचकिचा रहे हैं। यह छोटी बात नहीं क्योंकि सरकारी दावा यह है कि लगातार टेस्टिंग क्षमता बढ़ रही है, लेकिन लोग टेस्ट करवाने के लिए आ ही नहीं रही है। इस मुद्दे को लेकर एक सर्वे किया गया। इस सर्वे में कोरोना टेस्टिंग से जुड़े कई तरह के सवाल लोगों से पूछे गए व उनके कुछ निष्कर्ष निकले।

सर्वे में सामने आया, देश में बड़ी संख्या में लोग अस्पताल में भर्ती होने से डर रहे हैं। लोगों को डर लग रहा है कि उन्हें कोरोना न हुआ तो अस्पताल जाने से होने कि सम्भावना है। या उन्हें टेस्ट व ठीक रिपोर्ट आने का भरोसा नहीं है।  फिर ये भी कि अस्पताल में उनके उपचार के नाम पर उनके साथ क्या होगा, इस पर भी लोगों को विश्वास नहीं है। लोगों का मानना है कि अस्पताल जाने से अच्छा वह घर पर ही आइसोलेशन करके खुद को ठीक करना पसंद करेंगे।

ऐसे में कई लोग कोरोनावायरस का टेस्ट करवाने नहीं जाते और खुद को घर पर ही आइसोलेट करके ठीक करने की कोशिश करते हैं। इनमें से कई लोग तो ठीक भी हो जाते हैं लेकिन कई लोग सही सावधानी न बरतने के कारण अपनी जान गवा बैठते हैं।
इसलिए दोस्तों हम आपसे निवेदन करते हैं कि यदि आपको कोरोना के लक्षण है तो जल्द से जल्द अपना टेस्ट करवाएं क्योंकि इससे आप की भी सुरक्षा बनी रहेगी और साथ ही आपके परिवार की भी।

Share this:

Leave a Comment