स्वर्ग से कम नहीं है भारत के ये 4 गांव, खुद प्रधानमंत्री भी करते है तारीफ

भारत देश में बहुत सी जगह ऐसी है जो स्वर्ग से कम नहीं लगती है। इन जगहों की तारीफ करते खुद प्रधानमंत्री मोदी भी नहीं थकते हैं। इन्हीं में से एक जगह है

स्मित

यह गांव मेघालय की राजधानी शिलांग से लगभग 11 कि.मी. की दूरी पर पहाड़ों पर बसा हुआ गांव है। पहाड़ों के बीच यह गांव एक अलग ही नजारा पेश करता है। इस गांव की खासियत है कि यह प्रदूषण मुक्त है। ऐसे में इसे एशिया का पहला सबसे साफ और खूबसूरत गांव का दर्जा दिया गया है। 


मावलिनॉन्ग, मेघालय

यह गांव शिलांग से लगभग 90 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। इस गांव को सफाई के मुकाबले में पूरी एशिया में दूसरे नंबर पर रखा गया है। यहां के प्राकृतिक नजारे और खूबसूरत वादियों को देखकर कोई भी इस गांव की तारीफ किए बिना नहीं रह सकता है। इसी गांव में ही एशिया का सबसे मशहूर रूट ब्रिज बना हुआ हा। इसे देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। 

मिरिक

यह खूबसूरत वादियों से भरा गांव दार्जिलिंग के पश्चिम की ओर समुद्र तल से करीब 4905 फीट की ऊंचाई पर बना है। यह एक छोटा सा पर खूबसूरत प्राकृतिक नजारों से सुंदर गांव है। यहां पर बनी मिरिक झील इस गांव की सुंदरता को और भी बढ़ाने का काम करती है। इसके साथ ही यहां के चाय के बाग, जंगली फूलों को देखकर हर किसी का मन खिल उठता है। 

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *