साउथ चाइना महासागर क्षेत्र में एक इंच भी नहीं छोड़ेंगा अमेरिका, भड़का चीन, बोला- सैनिकों की जान खतरे में डाल रहा ट्रम्प

अमेरिका और चीन के बीच चल रहा वाक्युद्ध उनके बीच के तनाव को और बढ़ा रहा है। अमेरिका के रक्षा मंत्री का यह बयान कि चीन को दक्षिण महासागर क्षेत्र में एक इंच जगह भी नहीं लेने देंगे, तो चीन ने जुबानी पलटवार में कहा- अमेरिका अपने सैनिकों की जिंदगी खतरे में डाल रहा है। इन बयानों से दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के टकराव की आशंकाएं बढ़ गई हैं। जाहिर है दोनों के टकराव का असर पूरी दुनिया पर पड़ेगा।

अमेरिका में नवंबर में होने वाले चुनाव से ठीक पहले यह सब हो रहा है। ट्रंप प्रशासन ने बुधवार को चीन की 24 कंपनियों को ब्लैक लिस्ट कर दिया। इनसे अब कोई कारोबार नहीं होगा और न ही अमेरिका में इनके लिए कोई जगह होगी। चीन की इन कंपनियों के लिए यह बड़े झटके से कम नहीं है।

अमेरिका ने कहा, ये कंपनियां चीन की सेना को दक्षिण चीन सागर पर कब्जे में सहयोग दे रही हैं।

अमेरिकी रक्षा मंत्री ने कहा, चीन खुद को दुनिया का ताकतवर देश प्रदर्शित करने के लिए आक्रामक तरीके से अपनी सेना का आधुनिकीकरण कर रहा है। उन्होंने कहा, चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी का लक्ष्य है कि जल्द से जल्द चीन की सेना दुनिया की सबसे बड़ी सैन्य शक्ति बन जाए।

वही बीजिंग में चीन के रक्षा मंत्रालय ने अमेरिका की ओर से आए इस बयान पर पलटवार किया है। कहा है कि अमेरिका के कुछ राजनीतिक लोग चीन और अमेरिका के सैन्य समझौते को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

 वे नवंबर के चुनाव में फायदा उठाने की नीयत से ऐसा कर रहे हैं। प्रवक्ता वू कियान ने कहा, इससे दोनों ओर के सैन्य अधिकारियों और सैनिकों का जीवन खतरे में पड़ गया है। चीन किसी भी हरकत से दबाव में नहीं आने वाला है.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *