सरकार का बड़ा फैसला! अब इन कामों के लिए जरूरी नहीं है आधार

सरकार ने पेंशन लेने वाले बुजुर्गों के लिये डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र पाने के संबंध में नये नियम अधिसूचित किये हैं. अब पेंशनरों को डिजिटल तौर पर जीवन प्रमाण पत्र लेने के लिये आधार को स्वैच्छिक बना दिया गया है.

इस मामले में एनआईसी को आधार कानून 2016, आधार नियमन 2016 और कार्यालय ज्ञापन तथा यूआईडीएआई द्वारा समय समय पर जारी सकुर्लर और दिशानिर्देशों का अनुपालन करना होगा. इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने Sandes ऐप के उपयोगकर्ताओं के लिए आधार को वैकल्पिक बना दिया है. संदेश में आधार प्रमाणीकरण स्वैच्छिक आधार पर है और उपयोगकर्ता संगठन सत्यापन के वैकल्पिक साधन प्रदान करेंगे.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *