मुश्किल में फंसे कश्मीर के फारूक और उमर अब्दुल्ला, कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार, घर पर पंहुचा बुल्डोजर

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला की मुश्किलें बढ़ गई हैं, कभी भी दोनों की गिरफ़्तारी हो सकती है और घर पर सरकार का बुल्डोजर चल सकता है, क्योंकि कश्मीर में 25000 करोड़ के रोशनी ज़मीन घोटाले में इन दोनों का नाम आया है.

ब जल्द ही फारूक अब्दुल्ला के अवैध बंगले और दफ्तर को ढहाए जानें की कार्यवाही शुरू हो जाय ताकि सरकारी जमीन कब्जे से मुक्त हो सके.

25000 करोड़ के रोशनी ज़मीन घोटाले में फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला का नाम सामने आने के बाद यह साफ हो गया कि इन सबको धारा 370 से दिक्कत नहीं थी, उन्हें दिक्कत रोशनी की आड़ में हुई इसी लूट के अंधेरे पर जांच एजेंसियों के टॉर्च पड़ने की थी।

धारा 370 इसी टॉर्च के ऑफ रहने की गारंटी थी जिसको मोदी सरकार ने ख़त्म कर दिया। जम्मू कश्मीर हाइकोर्ट के आदेश के बाद मोदी सरकार ने ऐसे लोगों की एक सूची जारी की, जिन्होंने दूसरों को दी गई जमीन पर अतिक्रमण किया।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *