मास्क खरीद रहे हैं तो सावधान रहें, इस मास्क से नहीं होगा खत्म कोरोना -पह्हना होगा ये वाला मास्क

कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सबसे कारगार उपाय मास्क को माना गया है। वैसे तो बाजार में कई तरह के मास्क बिक रहे हैं, लेक‍िन स्‍वास्‍थय विशेषज्ञों ने एन-95 मास्क के इस्तेमाल ना करने की ह‍िदायत दी है। ये वायरस को फैलने से बचाने के लिए नहीं हैं और इस्तेमाल करने वालों के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

लने से बचाने के लिए नहीं हैं और इस्तेमाल करने वालों के लिए हानिकारक हो सकते हैं। दरअसल, एन-95 मास्क में वॉल्व या छेद होता है और विशेषज्ञों का कहना है कि छेद वाले मास्क से किसी दूसरे के शरीर में वायरस के प्रवेश का खतरा हो सकता है। ऐसे में शायद ये मास्क आपको सुरक्षित रखता हो, लेकिन अगर आप संक्रमित हैं तो यह दूसरों को सही से सुरक्षा नहीं दे सकता। असल में यह लंबे समय तक पहनने के लिहाज से बनाए जाते हैं और इससे धूल-मिट्टी से राहत मिलती थी।

लेकिन अब कोरोना के दौर में भी ऐसे मास्क का इस्तेमाल खूब हो रहा है, जो खतरनाक साबित हो सकता है।डॉक्टरों का मानना है कि बाजार से मास्क खरीदने से बेहतर है कि घर पर बने सूती मास्क को ही प्राथमिकता दी जाए। घर पर मास्क बनाने के लिए आप किसी भी सूती कपड़े का इस्तेमाल कर सकते हैं या अगर चाहें तो ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

Share this:

Leave a Comment