भारत-चीन के बीच समझौते के बावजूद नरमी नहीं, चीनी सेना बढ़ा रही है सैनिकों की संख्या

भारत और चीन के बीच तनावपूर्ण माहौल को 4 महीने हो गए हैं. अब भारत और चीन ने गतिरोध को दूर करने के लिए सुरक्षा बलों को पीछे हटने और तनाव को कम करने के लिए पांच सूत्रीय समझौते पर सहमति जताई है. लेकिन एलएसी पर जैसे हालात हैं, उसके हिसाब से नरमी के संकेत दोनों ही ओर से मिलते नहीं दिख रहे हैं.

चीन एक तरफ शांति की बात कर रहा है, लेकिन उसने एलएसी पर सैनिकों की संख्या बढ़ाना भी शुरू कर दिया है. यह भारत और चीन के बीच समझौते का उल्लंघन है. जमीनी स्‍तर पर देखा जाए तो चीन की सेना अधिक सैनिकों को एकत्र कर रही है. ताजा रिपोर्ट के अनुसार, अब पैंगोंग झील के उत्तर की ओर फिंगर-3 क्षेत्र के पास पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के सैनिकों को एकत्र करने की जानकारी मिली है

भारत के दक्षिण की ओर से कुछ सामरिक ऊंचाइयों पर पहुंचने के बाद, चीनी सेना उत्तर दिशा में भी ऐसा ही कुछ करने की कोशिश कर रही है. एलएसी पर स्थिति काफी गंभीर है. हालांकि दोनों देशों के नेतृत्व नहीं चाहते कि युद्ध जैसी स्थिति बने।
अब देखनायह है दोस्तों यदि चीन ने कुछ भी गड़बड़ करने की कोशिश की तो इसका जवाब भारत कैसे देता है।

Share this:

Leave a Comment