बॉर्डर पर किसानों ने बनाई 1.5 लाख रूपये की झोपड़ी, खासियत देख आप भी रह जाएंगे दंग -

 बार्डर पर पिछले चार महीने से धरने पर बैठे कृषि कानून आंदोलनकारी किसानी ने गर्मी और लू से बचाव के प्रयास शुरू कर दिए हैं। सर्दी खत्म होते ही इन्होंने बांस, सरकंडों और पुआल से झोपड़ियां बनाई थीं, लेकिन भीषण गर्मी से ये झोपड़ियां लोगों का बचाव नहीं कर सकतीं। ऐसे में पंजाब के रोपड़ से आए लोगों ने झोपड़ी की अंदरूनी एवं बाहरी दीवारों पर चिकनी मिट्टी की लिपाई कर दी है।

यहां तक कि झोपड़ी के फर्श की भी लिपाई-पुताई कर उन्हें आकर्षक रूप दिया गया है। जैसा की आप इस फोटो में देख पा रहे होंगे दोस्तों साथ ही बता दे एक झोपड़ी में कई चारपाइयां बिछाने की जगह है। एक-एक झोपड़ी में आठ चारपाइयां तक बिछाई गई हैं। यहां तक कि झोपड़ी में आधुनिक टायलेट, वाशबेसिन जैसी सुविधाएं भी उपलब्ध हैं।

ठंडे पानी के लिए फ्रिज के साथ एलईडी स्क्रीन टीवी और पंखे भी लगे हैं। दोस्तों पूछने पर किसानो का कहना है कि उनको तो पहले से ही पता था कि आंदोलन लंबा चलने वाला है, इसी वजह से सड़क पर ही हमने छोटा, लेकिन शानदार घर बना दिया। वाह यार ये लोग तो सच में आंदलोन की आड़ में पूरी मौज ले रहे हैं।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *