फोन को सिरहाने पर रखकर सोने वालोंं के लिए बुरी खबर, गंभीर बीमारी का मंडरा रहा खतरा

एक रिसर्च में इस बात का पता चला है कि स्मार्ट फोन से निकलने वाली विकिरणों से कैंसर और नपुंसकता का खतरा बढ़ता है. अंतरराष्ट्रीय कैंसर रिसर्च एजेंसी ने स्मार्ट फोन से निकलने वाली इलेक्ट्रो मैग्नेटिक विकिरणों को कार्सिनोजन यानि कैंसरकारी तत्वों की श्रेणी में रखा.

चेतावनी दी गई है कि स्मार्ट फोन का अधिक इस्तेमाल कान और मस्तिष्क में ट्यूमर पनपने की वजह बनता है. आगे चलकर इसके कैंसर का रूप लेने की संभावना बढ़ती है. यदि आप फोन को तकिये के नीचे रखकर सोते हैं तो तुरंत ही इस आदत को छोड़ दें. ऐसा करने से आपका स्मार्ट फोन फट सकता है.

शोधकर्ताओं ने कहा कि स्मार्टफोन, कंप्यूटर तथा टीवी की स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी ‘स्लीप हार्मोन’ मेलाटोनिन को बाधित करती है. इससे लोगों को सोने में दिक्कत आने लगती है.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *