पूरी दुनिया से दुश्मनी मोल ले रहा चीन, आखिर उसका मकसद क्या है?

 जैसा कि हम सब जानते हैं चीन सभी देशों से लगातार दुश्मनी मोल ले रहा हैं चीन के वूहान शहर से फैली कोरोना की महामारी ने लगभग पूरी दुनिया को तबाह कर रखा है। सभी देश महामारी से जूझ रहे हैं और इसकी चेतावनी देने में देरी करने और अपने यहां से जाने वाली उड़ानों को बंद न करने के लिए चीन को कोस रहे हैं। सिर्फ यही नहीं पहले चीन ने अमेरिका के साथ अपने रिश्ते खराब किए उसके बाद ताइवान को खुद से अलग कर दिया और भारत के साथ भी उसके कुछ खास अच्छे रिश्ते नहीं है।

एलएसी बॉर्डर पर चीनी ने भारत के साथ जो बवाल किया है वह सब जानते हैं। दुनिया भर में हो रही निंदा और चिंता के इस माहौल को शांत करने के लिए कोई शांति और सुलह का क़दम उठाने की बजाए चीन एक के बाद एक कांड किया जा रहा है। किसी को यह बात समझ में नहीं आ रही कि चीन को ऐसी विषम परिस्थिति मैं आखिर चीन शांत क्यों नहीं हो रहा। कुछ लोग मानते हैं कि चीन, भारत की अमेरिका के साथ बढ़ती दोस्ती से चिंतित है। चीन, भारत को सीमाओं की रक्षा में उलझा कर अपना क्षेत्रीय प्रभाव फैलाना और भारत को व्यापार प्रतिद्वंद्वी बनने से रोकना चाहता है

आम भाषा में कहें तो चीन केवल भारत का ध्यान भटका रहा है। भारत आबादी में चीन के बराबर का देश है। और कोरोनावायरस आने के बाद से चीन के व्यापार पर दूसरे देशों ने करीब-करीब ताला ही लगा दिया है। यह सभी देश भारत की ओर बढ़ रहे हैं ऐसे में चीन नहीं चाहता कि भारत ऊंचाइयों पर पहुंचे और इसीलिए वह भारत का ध्यान केवल और केवल एलएसी बॉर्डर पर हो रहे युद्ध की तरफ मोड़ रहा है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *