पीएम मोदी ने लाल किले से चीन और पाकिस्तान को दी चेतावनी, 'आंख दिखाने वालों को देंगे करारा जवाब

स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पड़ोसी देशों के साथ दोस्ती की नई परि भाषा दुनिया को बता दी है. उन्होंने कहा, हमारे पड़ोसी सिर्फ वो नहीं, जिससे सीमाएं मिलती है बल्कि वो भी है जिससे दिल मिलता है. आज भारत के पड़ोसी सिर्फ वो ही नहीं हैं जिनसे हमारी भौगोलिक सीमाएं मिलती हैं बल्कि वे भी हैं जिनसे हमारे दिल मिलते हैं. जहां रिश्तों में समरसता होती है, मेल जोल होता है.

लाल किले की प्राचीर से अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने चीन पाकिस्तान का नाम लिए बगैर उन्हें जताते हुए कहा, ‘सीमा पर देश के सामर्थ्य को चुनौती देने के दुष्प्रयास हुए हैं. लेकिन LOC से लेकर LAC तक देश की संप्रभुता पर जिसने भी आंख उठाई है.

हमारी सेना ने उसी की भाषा में जवाब दिया है. देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए पूरा देश एक जोश से भरा हुआ है. संकल्प से प्रेरित है. सामर्थ्य के अटूट श्रद्धा से आगे बढ़ रहा है.’ उन्होंने कहा कि हमारे जवान क्या कर सकते है यह लदाख में दुनिया ने देख लिया है.

आतंकवाद हो या विस्तारवाद, भारत आज डंटकर मुकाबला कर रहा है. भारत के 74 में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले के प्राचीर से दो पड़ोसी मुल्कों पाकिस्तान चीन को कड़ी चेतावनी दी है. नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत की संप्रभुता का सम्मान हमारे लिए सर्वोच्च है. देश की संप्रभुता पर जिसने भी आंख उठाई है देश की सेना ने उसे उसकी भाषा में जवाब दिया है.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *