भारत और नेपाल के बीच रिश्तों में आई तल्खी का फायेदा उठा रहा है चीन और पाकिस्तान

पकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी चीन-पाकिस्तान विदेश मंत्रियों के रणनीतिक वार्ता के दूसरे दौर में भाग लेने के लिए चीन की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। इस दौरे पर पाकिस्तान चीन के सामने नेपाल को लेकर ये तीन प्रस्ताव रखेगा।

इस दौरे पर पाकिस्तान चीन के सामने तीन प्रस्ताव या यूं कहें गुजारिशें रखेगा। अब सवाल ये उठता है कि भारत और नेपाल के बीच रिश्तों में आई तल्खी का क्या पाकिस्तान फायदा उठाना चाहता है? पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान ने चीन के सामने जो 3 प्रस्ताव रखने का मन बनाया है

उनसे ऐसी आशंका है। इसमें से एक प्रस्ताव ऐसा है जिससे साफ जाहिर होता है कि पाकिस्तान नेपाल के ज्यादा करीब आने की कोशिश कर रहा है।

सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान की तरफ से पहला प्रस्ताव यह होगा कि पाकिस्तान और चीन के बीच सैन्य साझेदारी बढ़े। इसमें जॉइंट मिलिट्री कॉर्पोरेशन पर जोर है। दूसरा प्रस्ताव चीन पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर से जुड़ा है। पाकिस्तान चाहता है कि CPEC प्रॉजेक्ट्स के दूसरे फेज का काम भी चीन जल्द शुरू कर दे। वहीं तीसरा प्रस्ताव है नेपाल को लेकर।

इमरान खान चाहते हैं कि नेपाल से पाकिस्तान के व्यापारिक रिश्ते और मजबूत हों। इसके लिए कुरैशी पाकिस्तान और नेपाल के बीच किसी तरह के ट्रांसपोर्ट कॉरिडोर का मुद्दा उठाएंगे। नेपाल इस वक्त चीन से करीबी बढ़ा रहा है, इसलिए पाकिस्तान इसके लिए चीन की मदद चाहता है। नेपाल और चीन ने भी हाल में करीब 20 इन्फ्रास्ट्रक्चर संबंधी अग्रीमेंट किए हैं।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *