देखिए असली ईमानदारी , चार बार एमएलए बनने के बावजूद भी खुद का पक्का घर नहीं, खेती से चलाते हैं पूरा घर

भारत में यदि कोई एक बार सरपंच या मुखिया भी बन जाता है तो उसके ठाट की कमी नहीं होती है. सरपंच या मुखिया बनने वाला व्यक्ति सालभर के अंदर ही पैदल से कार का सफर तय कर लेता है. लेकिन इन सभी के बावजूद कुछ ऐसे भी नेता हैं, जो विधायक बनने के बाद पहले की तरह ही जिंदगी जी रहे हैं. इन्हीं नेताओं में से एक नाम है महबूब आलम का. ये अपनी ईमानदारी और सादगी के लिए पूरे इलाके में प्रसिद्ध हैं.

यही वजह है कि विधायक रहने के बाद भी ये अभी तक अपना पक्का मकान नहीं बना सके. जानकारी के मुताबिक, महबूब आलम बिहार के कटिहार जिले के रहने वाले हैं. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि महबूब आलमबलरामपुर सीट से 4 बार विधायक बन चुके हैं इसके बावजूद भी उनके पास खुद का एक पक्का मकान तक नहीं है।

जहां देश भर में भ्रष्ट नेता एक ही बार में हवेली खड़ी कर देते हैं वहां चार बार विधायक बनने के बावजूद महबूब आलम सादगी भरी जिंदगी जी रहे हैं। इससे ये जरूर साबित हो जाता हैं कि आज भी देश मे कहीं ना कहीं ईमानदारी जिंदा हैं.

Share this:

Leave a Comment