दिल्ली में बड़ा आंदोलन करने निकले पूरे 2 लाख किसान, पुलिस की हालत हुई ख़राब

 तीन कृषि कानूनों, बिजली संशोधन बिल 2020 और पराली जलाने वाले किसानों पर एक करोड़ रुपये जुर्माने के खिलाफ पंजाब के किसान संगठनों ने 26 व 27 नवंबर को ‘दिल्ली चलो’ आंदोलन की सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस बीच किसान संगठनों ने आरोप लगाया है कि दिल्ली के लिए रवाना की गई राशन से लदीं 40 ट्रालियों को हरियाणा सरकार ने बार्डर पर रोक लिया है।

 भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के नेतृत्व में पंजाब से दो लाख से अधिक किसान, दिल्ली की तरफ आने के लिए चल पड़े हैं। यहा पर किसानो ने पत्थरों से हमला किया जिसमें पुलिस ने अपने बचाव में उन पर आशु गैस के गोले छोडे किसानों की इस रैली को देखते हुए हरियाणा सरकार ने पहले ही सीमाएं बंद करदी है

। दिल्ली में पहले ही कोरोना का प्रसार बहुत तेजी से फैल रहा है ऐसे में किसानों को इतनी मात्रा में दिल्ली की तरफ आना और उनके मामलों में और बढ़ोतरी के अलावा कुछ नहीं लाएगा। इसी को देखते हुए सरकार ने कड़े कदम उठाने का फैसला किया है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *