तंबाकू, पान-मसाला, गुटका पर एक साल का तक हुआ बंद नियमों के उल्लंघन पर होगी कड़ी कार्यवाही

सरकार ने आगामी एक वर्ष के लिए तंबाकू व निकोटिन युक्त गुटका व पान-मसाला के निर्माण, और बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। यदि कोई व्यक्ति या व्यापारी इसका उल्लंघन करता पाया जाता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सरकार का कहना है ऐसा कोरोना काल देखते हुए किया गया है।

लोगों में डर बनाने और सख्त कानून लागू करने के लिए पान मसाला व गुटखा जैसे पदार्थों को बंद किया गया है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है, लोग पान मसाला चबाकर सार्वजनिक स्थानों पर थूकते हैं, जिससे कोरोना के बढ़ने का खतरा बना रहता है।

इसके लिए देश में कई कड़े कानून भी बने हैं उसके बावजूद भी लोग इन कानूनों का उल्लंघन करते दिखाई दिए हैं। इसलिए अब सरकार कड़े नियम जारी करते हुए पान मसाला गुटखा सभी पदार्थों को 1 साल के लिए बंद कर रही है।

Share this:

Leave a Comment