डूब गए मंदिर-घाट और मकान, गंगा के विकराल रूप से कांपे लोग।

गंगा नदी का जलस्तर धर्मनगरी वाराणसी में तेज रफ्तार से बढ़ रहा है। अभी भी हालात कुछ भी सामान्य नहीं हैं, गंगा नदी के भयानक रूप को देखते हुए तीसरी बार उनकी आरती करने वालों के कदम पीछे हो गए हैं।

गंगा के विकराल रूप को देखते हुए गंगा आरती अब मुख्य सीढ़ियों से बिल्कुल नीचे हो रही है। क्योंकि जहां पर आमतौर पर गंगा आरती होती है, वहां करीब 4 फुट से ज्यादा पानी भर गया है।

 ऐसे में वाराणसी के सबसे प्रमुख घाट दशाश्वमेध पर स्थित शीतला मंदिर की दीवारों तक पानी आ गया है। सती मां का मंदिर, शूलटंकेश्वर मंदिर और गुफा वाला मंदिर डूब गया है। हनुमान मंदिर तक पानी पहुंच गया है। वहीं मणिकर्णिका घाट पर नीचे का शवदाह स्थल पूरी तरह से पानी में जलमग्न हो गया है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *