जान ले 1 सितंबर से आम आदमी की जिंदगी होने वाले हैं कई बड़े बदलाव, बदल जाएंगी ये चीजे

जिन चीजों में बदलाव होने वाला है उसमें मुख्‍य रूप से LPG, Home Loan, EMI, Airlines सहित कई और चीजें शामिल हैं. इनका आपकी जेब पर भी असर पड़ सकता है. आइए आपको बताते हैं इस सभी बदलावों की पूरी जानकारी..

LPG सिलेंडर के दाम में बदलाव – देश में कोरोना काल के दौरान एक तरफ जहां महामारी के कारण महंगाई दर बढ़ रही है, वहीं दूसरी तरफ बहुत जल्द ही रसोई गैस सस्ती हो सकती है. LPG और CNG के दामों में भारी गिरावट हो सकती है. 1 सितंबर को एलपीजी के दाम में बदलाव हो सकता है.

हर महीने की पहली तारीख को सिलेंडर की कीमतों में बदलाव होता है. ऐसे में माना जा रहा है सितंबर में LPG सिलेंडर के दाम घटेंगे.


महंगा होगी फ्लाइट यात्रा – दोस्तों 1 सितंबर से विमान सेवाएं महंगी हो सकती है. उड्डयन मंत्रालय ने 1 सितंबर से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से उच्च विमानन सुरक्षा शुल्कवसूलने का फैसला किया है. एएसएफ शुल्क के तौर पर घरेलू यात्रियों से अब160 रुपए वसूला जाएगा, वहीं अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से 4.85 डॉलर के बदले 5.2 डॉलर वसूला जाएगा.

 EMI चुकाने वाले ग्राहकों को जेब पर झटका लगता है क्‍योंकि कोविड-19 संकट की वजह से लोन ग्राहकों की EMI पर इस वर्ष मार्च में जो रोक लगी थी, वह 31 अगस्त को समाप्त हो रही है. भारतीय स्टेट बैंक व पंजाब नेशनल बैंक की तरफ से अगले हफ्ते फैसला होने की संभावना है. बैंकिंग सेक्टर में इसे आगे बढ़ाने को लेकर स्थिति साफ नहीं हो पा रही है. होम, आटो, पर्सनल लोन जैसी सावधि कर्ज योजनाओं के तहत लिए गए लोन को किस तरह से जारी रखा जाए, इसका खाका स्पष्ट नहीं हो पा रहा है.

मेट्रो हो सकती है शुरू – दोस्तों मेट्रो शुरू होने की राह देख रहे लोगों को जल्द ही खुशखबरी मिल सकती है. देश में 1 सितंबर से लॉकडाउन में छूट का चौथा चरण अनलॉक 4 शुरू होने जा रहा है. अधिकारियों के अनुसार, इस दौरान एक सितंबर से ही दिल्ली मेट्रो के परिचालन की अनुमति दी जा सकती है.

स्कूल खुल सकते हैं – दोस्तों केंद्र सरकार ने अनलॉक-4 (Unlock-4) में कई प्रतिबंधों के साथ 1 सितंबर से 14 नवंबर के बीच स्कूल खोलने लिए गाइडलाइंस
की तैयारी कर रही है. योजना पर सचिवों के समूह और हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन से इस बारे में चर्चा हो चुकी है. बताया जा रहा है कि अंतिम अनलॉक गाइडलाइंस के दौरान इस बारे में जानकारी दी जाएगी.

Ola-Uber ड्राइवर कर सकते हैं हड़ताल – ऐप आधारित कार सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी ओला (Ola) और उबर (Uber) के ड्राइवरों ने दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में 1 सितंबर से हड़ताल की धमकी दी है. कैब ड्राइवरों ने अपनी कई मांगों जैसे किराये में बढ़ोतरी और लोन रिपेमेंट मोरेटोरियम के विस्तार को लेकर हड़ताल जाने की धमकी दी है. अगर सरकार हमारी समस्याओं को हल करने में विफल रहती है तो कैब के साथ काम करने वाले लगभग 2 लाख ड्राइवर हड़ताल में शामिल होंगे.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *