चीनी मीडिया का बड़ा दावा, लद्दाख में पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे से भारत पहले हटाएगा सेना

चीन के सरकारी भोंपू ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दावा क‍िया है, कि चीन और भारत के बीच सेना और हथियारों को पीछे हटाने पर सहमति हो गई है। दोनों ही देश जल्‍द ही सेनाओं को बारी-बारी से हटाने की योजना का लागू कर देंगे। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दावा किया कि भारत को अपनी सेना को पहले हटाना चाहिए।

ग्‍लोबल टाइम्‍स ने सूत्रों के हवाले से दावा किया कि सेनाओं को हटाने के फैसले का नियंत्रण रेखा और सीमा के मुद्दों को लेकर दोनों देशों की स्थित‍ि पर कोई असर नहीं पड़ेगा। चीनी अखबार ने कहा था कि पूर्वी लद्दाख से भारत और चीन के सैनिकों, टैंकों, तोपों और हथियारों से लैस वाहनों को वापस लेने पर कोई सहमति नहीं बनी है।

लोबल टाइम्‍स ने सूत्रों के हवाले से दावा किया कि भारतीय मीडिया में आई इस तरह की खबरें गलत हैं। इससे पहले भारतीय मीडिया आई खबरों में कहा गया था कि दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद बनी आपसी सहमति के अनुसार अब पीएलए अपने सैनिकों को फिंगर 8 से पूरब की तरफ धकेलेगा यह काम चरण-दर-चरण पूरा होगा।

फिंगर 3 से फिंगर 8 तक का इलाका बफर जोन की तरह से होगा जिस पर कोई देश गश्‍त नहीं करेगा।

Share this:

Leave a Comment