गाड़ी में अकेले बिना मास्क हों, तो भी कट रहे है चालान, लोग नाराज़

कोरोना के सख्त नियमो को लेकर आजकल दुविधा में हैं। गाड़ी में बिना मास्क लगाए अकेले जा रहे लोगों को रोक कर पुलिसवाले उनके चालान काट रही है। इसके पीछे गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइंस का हवाला दिया जा रहा है, लेकिन जब लोग पुलिसवालों से गाइडलाइंस दिखाने की मांग कर रहे हैं तो पुलिसवाले ऐसा कोई आदेश या गाइडलाइंस नहीं दिखा पा रहे हैं। इस मुद्दे पर अब लोग सोशल मीडिया के जरिए भी जमकर अपनी नाराजगी का इजहार कर रहे हैं।

 इस बारे में दिल्ली पुलिस के कुछ अधिकारियों का कहना है कि वैसे तो सुनने में यह तर्क सही लगता है कि जब कोई गाड़ी में अकेले जा रहा है, तो उसे मास्क लगाने की क्या जरूरत है। लेकिन कई ऐसे कारण हो सकते हैं, जिसके चलते ऐसे लोग भी या तो संक्रमण का शिकार हो सकते हैं या किसी दूसरों के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं।

जैसे कि अगर किसी ने रास्ते में गाड़ी रोक कर और खिड़की का शीशा उताकर किसी से एड्रेस पूछ लिया या चलते-चलते रास्ते में किसी ने थूक दिया या रेड लाइट पर कोई बाइक सवार या साइकल सवार बिल्कुल पास आकर खड़ा हो गया या सिग्नल पर सामान बेचने वाले या भिखारी ही पास आ गए, तो संक्रमण का खतरा पैदा हो सकता है। इसी वजह से गाड़ी में अकेले जा रहे लोगों को भी मास्क पहनने की सलाह दी गई है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *