किसान बोले- मांगें नहीं मानी गईं तो और सड़कें बंद करेंगे, सरकार ने कहा- यह पाकिस्तान का लाहौर या कराची नहीं

 कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली कूच पर निकले किसान सातवें दिन उग्र हो गए हैं। दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर उन्होंने बैरिकेड्स गिरा दिए। वे दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन पर अड़े हुए हैं। मंगलवार को सिंधु और टिकरी बॉर्डर के साथ-साथ नोएडा बॉर्डर को भी पुलिस ने सील कर दिया है।

 बॉर्डर की ओर से बड़ी संख्या में किसान दिल्ली में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे हैं। मंगलवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में किसान संगठन के नेताओं और केंद्र सरकार के बीच बातचीत हुई, लेकिन इसमें कोई ठोस नतीजा नहीं निकला।

अब जल्द ही बार फिर किसानो और सरकार की वार्ता होगी। आन्दोलन कारी किसानों ने बुधवार को कहा कि अगर हमारी मांगें नहीं मानी गईं तो दिल्ली को बहुत बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा.

Share this:

Leave a Comment