कानून बनने के बाद 'लव जिहाद' में हुई पहली गिरफ्तारी, मिली ये सजा

 उत्तर प्रदेश में लव जिहाद लागू होने के बाद पहली गिरफ्तारी हो गई है। यहां बरेली जिले में ‘लव जिहाद’ का पहला मुकदमा दर्ज होने के बाद फरार चल रहे आरोपी उवैस को आखिरकार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पांच दिन पहले 28 नवंबर को बरेली के देवरनिया थाने में लव जिहाद का कानून बनने के बाद पहला मुकदमा दर्ज किया गया था।

बुधवार को गिरफ़्तारी के बाद आरोपी को अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। उवैस पर आरोप है कि वह एक हिन्दू लड़की को अपने प्रेमजाल में फंसाकर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया था । जिस कारण लड़की के पिता ने लॉकडाउन के दौरान ही उसकी दूसरी जगह शादी कर दी थी।

लड़की की शादी हो जाने के बाद भी आरोपी उसे जान से मारने की धमकी दे रहा था। लड़की के पिता ने उवैस पर मुकदमा दर्ज कराया। जिसके बाद से पुलिस की टीमें आरोपी की तलाश में लगी हुई थीं। बुधवार को देवरनिया रेलवे फाटक के पास से आरोपी उवैस को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है उवैस कहीं भागने की फिराक में था।

Share this:

Leave a Comment