आ गया किसानों का बड़ा फैसला, अब 1 फरवरी को करेंगे ये काम

किसान आंदोलनकारियों ने बैरिकेडिंग तोड़ते हुए दी गई समय सीमा से पहले ही ट्रैक्टर रैली की शुरुआत कर अपनी मंशा जाहिर कर दी है। ये सरकार के सब्र का इम्तिहान लेने जैसा है। इससे एक बात और साबित होती है कि दिल्ली की सीमा पर डेरा डाले इन किसानों की मंशा न तो किसानों की समस्या हल करने की है न ही उनके इरादे नेक हैं।

उधर राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस के मुख्य आयोजन पर अपनी मेगा ट्रैक्टर रैली से एक दिन बाद ही किसान नेताओं ने आंदोलन के अगले चरण का एलान करते हुए कहा है कि वे 1 फरवरी को जिस दिन केंद्रीय बजट पेश किया जाएगा, संसद के लिए पैदल मार्च करेंगे।

वही अब भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष बलबीर सिंह राजेवाल ट्रैक्टर रैली समाप्त होने के बाद, किसानों से अपने गांवों में वापस नहीं जाने के लिए कहा है, इनकी मंशा इन किसानों को दिल्ली की सीमाओं पर रोकने की है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *