आर्मी चीफ एमएम नरवणे का बड़ा बयान, रक्षा क्षेत्र में दुश्मन तेजी से हो रहे आधुनिक, हम छूट रहे पीछे

आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि हमारे दुश्मन जिस तरह डिफेंस मॉर्डनाइजेशन तेजी से कर रहे हैं उस हिसाब से स्पीड में हम थोड़ा पीछे छूट रहे हैं। आर्मी चीफ ने कहा कि भारतीय आर्म्ड फोर्स की विदेशी उपकरणों पर निर्भरता को स्वदेशी क्षमता बढ़ाकर कम करना चाहिए।

आर्मी चीफ ने कहा कि हमें यह ध्यान रखना होगा आधुनिक और खास टेक्नॉलजी और मैन्युफैक्चरिंग में क्षमता की कमी की वजह से सिर्फ स्वदेशी डिवेलपमेंट से ही मौजूदा ऑपरेशनल गैप यानी जरूरतों की भरपाई नहीं हो सकती। इसलिए कुछ पर्सेंट इंपोर्ट की जरूरत रहेगी। जब दुश्मन एकदम दरवाजे पर हो उस वक्त कोई भी ऑपरेशनल कमी का रिस्क नहीं ले सकता।

जनरल नरवणे ने कहा कि 2020 खास साल रहा जिसमें डबल चुनौती रही, एक कोविड-19 की और दूसरी नॉर्दन बॉर्डर यानी चीन सीमा पर पड़ोसी के आक्रामक रवैये की वजह से। उन्होंने कहा कि मुसीबत के वक्त में हथियार और गोलाबारूद पर बाहर के देशों पर निर्भरता दिक्कत पैदा करती है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *