आत्मसमर्पण के बाद आतंकी ने आतकंवाद को ही बताया 'छलावा', कहा मुझे दो जीने का एक मौका.

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में शुक्रवार को मुठभेड़ के बाद आत्मसमर्पण करने वाले एक स्थानीय आतंकी ने जीवन जीने का एक और अवसर दिए जाने के लिए पुलिस और सुरक्षाबलों का आभार जताया.

साथ ही उसने आतंकवाद के रास्ते पर चलने वालों से इसे छोड़ने का अनुरोध करते हुए कहा कि यह एक ‘छलावा’ है. दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के दरांगबल इलाके के निवासी खावर सुल्तान मीर ने पंपोर स्थित लालपोरा में हुई मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों के समक्ष हथियार डाल दिया. सुरक्षा बलों द्वारा बार-बार अपील किए जाने के बाद मीर ने आत्मसमर्पण किया.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *