अब बैंक डूबा तो तुरंत मिलेंगे पुरे पांच लाख तक की राशि, जल्द बनेगा कानून-

अब देश में कोई बैंक डूबी या वित्तीय दबाव के चलते किसी बैंक से जमाकर्ताओं को भुगतान रोका गया तो उन्हें जमा राशि के एवज में अधिकतम पांच लाख रुपये की राशि का तुरंत भुगतान हो सकेगा।आपको बता दे दोस्तों वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट पेश करते हुए एलान किया कि इससे संबंधित संशोधन विधेयक बजट सत्र में ही लाया जा रहा है।

बता दें, सरकार ने बैंकों में जमा होने वाली ग्राहकों की रकम का की गारंटी कार्पोरेशन एक्ट 1961 के तहत बीमा अनिवार्य किया हुआ है। इसके तहत बैंक के संकट में आने पर पहले अधिकतम एक लाख रुपये ही बतौर मुआवजा देने का प्रावधान था, लेकिन इसे बढ़ाकर पांच लाख रुपये किया जा चुका है।

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *