अब बर्दाश्त नहीं करेगा भारत, आंख दिखाएगा तो मुंह की खाएगा चीन; तीनों सेनाएं हुईं तैयार

रतीय सैनिक लद्दाख में पैंगोंग लेक के दक्षिणी किनारे पर चीन की सेना को पहले ही खदेड़ चुके हैं.अब सबकी नजर इस बात पर है कि चीन क्या करने वाला है. रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक अपनी विस्तारवादी नीतियों की वजह से बदनाम चीन की सेना इस बार बुरी तरह फंस गई है. दरअसल लद्दाख के ऊंचाई वाले इलाकों में सर्दियों में बुरी ठंड पड़ती है।

ऐसे में सर्दियों में इस इलाके में कोई भी सैन्य ऑपरेशन करना बेहद मुश्किल माना जाता है. ऐसे में यदि चीनी सेना अगले एक महीने तक कोई सैन्य कार्रवाई नहीं कर पाती है तो अगली गर्मियों तक भारतीय सेना इस इलाके की ऊंची चोटियों पर तैनात रहेगी. इस दौरान भारतीय सेना को अपनी स्थिति मजबूत बनाने का समय मिल जाएगा और फिर इसे ही Line Of Control मान लिया जाएगा.

हालात को देखते हुए भारतीय सेना लगातार अपनी तैयारियां करने में जुटी हुई है. भारतीय सेना लद्दाख में करीब 20 हजार सैनिकों के रहने का इंतजाम कर रही है. इसी बीच सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे दो दिन के दौरे पर लेह- लद्दाख पहुंचे हुए हैं. इसका मतलब है भारत पूरी तैयारी में है, यदि चीन ने किसी भी कदम को उठाने की कोशिश की तो भारत उसका मुंहतोड़ जवाब देगा।

Share this:

Leave a Comment